कॉमेडी का मतलब ये नहीं आप कुछ भी परोस दो : बिन्नू ढिल्लों

0

फिल्म किसी भी तरह की हो, उसमें भाषा का अहम रोल होता है। भाषा ऐसी होनी चाहिए कि पूरा परिवार बैठ कर ‌फिल्म को देख सके। कॉमेडी का मतलब ये नहीं कि आप देखने वालों को हंसाने के लिए कुछ भी परोसते रहें। यह कहना है पंजाब के प्रसिद्ध कॉमेडियन और पॉलीवुड के अभिनेता बिन्नू ढिल्लों का, जो बीते दिनों चंडीगढ़ में अपनी नई फिल्म ‘बैंडवाजे’ के प्रमोशन कि लिए चंडीगढ़ के होटल जेडब्ल्यू मैरियट पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि वे खुद भी ‌इस बात का ख्याल रखते हैं कि भाषा की मर्यादा पर किसी भी प्रकार की आंच न आए। कॉमेडी का एक नेचुरल रूप होता है, जो बाजारवाद के कारण कहींखो रहा है। पंजाबी फिल्मों पर एक टैग लग गया है कि इनमें कॉमेडी है, दरअसल ऐसा नहीं है। कॉमेडी सिचुएशन, कैरेक्टर और स्क्रिप्ट तीनों से ही बनती है।बता दें कि बिन्नू ढिल्लों फिल्म बैंड वाजे में मुख्य किरदार निभा रहे हैं। इस फिल्म की शूटिंग लंदन, चंडीगढ़ सहित कई जगहों पर की जा रही है।एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने हमेशा नैचुरल तरीके से कॉमेडी को तरजीह दी है। बनावटीपन थोड़ा बहुत एक्टिंग में तो चला सकते हैं, लेकिन यहां किसी को हंसाने का काम हो उसमें ये संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि पंजाब के आर्टिस्टों को प्रमोट करने और पंजाब की फिल्म इंडस्ट्री को नया शेप देने के लिए बनाई गई एसोसिएशन अब एक्टिव हो चुकी है।प्रमोशन के दौरन उनके साथ मौजूद फिल्म डायरेक्टर समीप कंग ने कहा कि ये फिल्म दर्शकों की उम्मीदों पर खरा उतरेगी। कुछ नया करने का प्रयास किया है। कई फिल्में इस लिए पिट जाती हैं क्योंकि उनकी कहानी भले दमदार है, ले‌किन स्टार कास्ट उस स्तर की नहीं होती। इस लिए इस फिल्म के साथ कोई समझोता नहीं किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here