नही रहें कादर ख़ान…

0

मशहूर अभिनेता कादर खान का कनाडा के एक अस्पताल में निधन हो गया।कादर खान ने बॉलीवुड में 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है।अमिताभ बच्चन और गोविंदां के साथ उनकी जोड़ी खूब जमी। इन दोनों के साथ कई हिट फिल्में बॉलीवुडको दी। कादर खान के अच्छे अदाकार के साथ साथ डायलॉग भी लिखते थे। कादर खान को दर्शकों को हंसाना और रूलाना बखूबी आता था।
कादर की पहली फ़िल्म दाग (1973) थी जिसमे उन्होंने अभियोगपक्ष के वकील की भूमिका निभाई थी।कादर खान को फिल्मों में लाने का श्रेय दिलीप कुमार साहिब को जाता है।कादर खान ने कॉलेज के नाटक में भूमिका निभाई थी यह नाटक दिलीप कुमार के जानने वालों ने देखा था उन्होंने कादर के अभिनय की इसकदर तारीफ दिलीप कुमार के पास की, दिलीप ने कादर खान को बुला ही लिया और अपने सामने फिर से अभिनय करने को कहा। कादर के अभिनय से दिलीप इतने खुश हुए कि अपनी दो फिल्मों सगीना महतो और बैराग में अभिनय का काम दे दिया।


कादर खान का जन्म अफगानिस्तान के काबुल में 22 अक्तूबर 1937 में हुया था।
कादर खान ने अनुपम खेर को पद्मश्री दिए जाने का विरोध किया था।कादर खान सीधा स्पष्ट बोलने के लिए जाने जाते हैं। इसी चक्कर में एक बार अमिताभ बच्चन के साथ भी अनबन हो गई थी। कादर को अमिताभ का नेता बनना अच्छा नही लगा था कादर ने अमिताभ को चुनाव लड़ने से मना किया था। अमिताभ की ज्यादातर हिट फिल्मों के डायलॉग कादर खान ने ही लिखे हैं। जिसमें शराबी (1984), कुली (1983), लावारिस (1981), मुकद्दर का सिकंदर (1978), अमर अकबर, एंथनी (1977), सत्ते पे सत्ता (1982) और अग्निपथ (1990) शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here